Breaking

Tuesday, January 14, 2020

Haridwar Ganga Aarti-Incredible India

Introduction:

Haridwar Ganga Aarti के बारे में हम लोग सभी जानते है लेकिन यह बहुत कम लोग जानते हैं हरिद्वार की गंगा आरती तब से हो रही है।
जब से गंगा धरती पर अवतरित हुई है धर्म ग्रंथों के अनुसार  गंगा का उद्गम हिमालय की तलहटी में स्थित गंगोत्री से होता है, अतः गंगोत्री से निकलने के बाद गंगा सात अलग-अलग धाराओं में विभाजित हो जाती है जिसमें से मुख्यतः अलकनंदा, भागीरथी, मंदाकिनी है।



यह सारी नदियां अंधता एक होकर Rishikesh से होते हुए Haridwar के मैदानों में प्रवेश करती हैं। Haridwar विष्णु भक्तों के लिए हरिद्वार के रूप में और शिव भक्तों के लिए Hardwar के रूप में जाना जाता है।
Haridwar ना केवल  पूजा स्थल  अपितु अंतिम क्रिया में होने वाले कार्यों के स्थल के रूप में भी जाना जाता है, पूरे विश्व से लोग यहां अपने पूर्वजों की अंतिम क्रिया संपन्न करने आते हैं अतः हरिद्वार को लोक मोक्ष का द्वार भी कहते हैं।

How to reach Haridwar:

Haridwar पूर्णता भारत के सभी बड़े शहरों से जुड़ा हुआ है जिसमें से मुख्य रेलमार्ग और सड़क मार्ग है। यात्री किसी भी बड़े शहर जैसे Delhi, Mumbai, Kolkata आदि जैसे शहरों से सड़क द्वारा रेल द्वारा और हवाई जहाज द्वारा यहां आ सकते हैं।  
हरिद्वार से नजदीकी हवाई अड्डा Jolly grant है, जो Dehradun शहर में स्थित है। इनमें से रेल यात्रा सस्ती और  सुखद है।

Where to stay:

हरिद्वार में बहुत से सस्ते और अच्छे Hotels उपलब्ध हैं जो आप online और offline दोनों तरह से बुक कर सकते हैं आप जब भी हरिद्वार जाएं हमेशा प्रयास करें कि आपका Hotel, Har ki pauri से नजदीक हो हर की पौड़ी से नजदीक होटलों से शाम के समय का नजारा बेहद सुखद और  उल्लास कौन होता है, और यहां से Haridwar की मशहूर Ganga Aarti के दर्शन भी किए जा सकते हैं।



इन सभी होटलों में आपको विशेष करता प्रकार की सुविधाएं दी जाती हैं और इन होटलों में ट्रेवल एजेंसी वाले घूमने फिरने के विशेष ऑफर प्रदान करते हैं, जो कि आपको सस्ते में Haridwar और Rishikesh की  प्रख्यात जगहों के दर्शन करवाते हैं।

Things to do at Haridwar: 

वैसे तो Haridwar उन जगहों में से एक है जहां अर्ध कुंभ मेला आयोजित किया जाता है लेकिन यह सिर्फ 6 साल में एक बार आयोजित होता है यदि आप अर्ध कुंभ मेले के दौरान हरिद्वार गए हैं।


यह आपके लिए एक अलग ही अनुभव होने वाला है इस दौरान हरिद्वार में सबसे ज्यादा भीड़ होती है और यहां के होटल भी फूल रहते  है यदि आप इस दौरान Haridwar घूमने की सोच रहे हैं तो यह आपकी जेब पर थोड़ा भारी पड़ सकता है अतः यहां घूमने के मौसम का चुनाव आप स्वयं ही करें वैसे तो यहां साल भर रौनक रहती है। जिसका मुख्य कारण  Ganga Aarti है।
Haridwar में Ganga Aarti के अलावा कुछ विशेष मंदिर और तीर्थ स्थल है जिसे घूमना आवश्यक है, जो कि हिंदू धर्म को एक विशेषता प्रदान करते हैं।

Places to visit in Haridwar: 

Haridwar में घूमने के लिए कई स्थान है जिसे घूमने के लिए आपको समय निकाल कर जाना चाहिए और इनके बारे में जानना चाहिए इनमें से मुख्य है।
  1. Mansa Devi Temple
  2. Chandi devi Temple 
  3. Chilla Wildlife sanctury 
  4. Pantanjali Yogpeeth Ashram
  5. Daksha Mahadev Temple
  6. Bharat Mata Temple
  7. Saptrishi Ashram
  8. Maya Devi Temple
  9. Bilkeshwar Mahadev Temple
  10. Parad Shivlingaa Temple
  11. Bhimgoda Tank
  12. Sureshwari Devi Temple
  13. Sati Kund 
  14. Shanti Kunj
  15. Neel Dhara

Conclusion:

अपने इस भाव में मैं आपसे यही कहना चाहता हूं कि आपको जीवन में एक बार Haridwar घूमने के लिए अवश्य जाना चाहिए यहां पर आकर एक अलग ही आनंद और उल्लास पूर्ण एहसास होता है यहां के मंदिरों और तीर्थ स्थल में एक पवित्र आभा महसूस की जा सकती है, जो आपको यह बताती है के जीवन में सब कुछ पूर्ण हो यह जरूरी नहीं है लेकिन जितना भी है वह अपूर्ण नहीं होना चाहिए।

No comments: